महिला से दोस्ती पीएसी जवान को पड़ा भारी, ट्रक ड्राइवर ने जलाकर मार डाला, पुलिस ने ऐसे किया खुलासा


फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में छुट्टी पर आए पीएसी के जवान की 6 फरवरी को जलाकर हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने इस मामले का खुलासा किया है. वारदात के पीछे प्रेम-प्रसंग का मामला सामने आया है. पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या है मामला 
दरअसल, एक महिला से मृतक पीएसी का जवान और हत्या का आरोपी दोनों ही प्रेम करते थे. इसी रंजिश में पीएसी के जवान को आरोपी ने जलाकर मौत के घाट उतार दिया था. मामला फरिहा थाना क्षेत्र के गांव नवलपुर निवासी कन्हैया लाल 38वीं वाहिनी पीएसी अलीगढ़ में तैनात था. कन्हैया छुट्टी के दौरान अपने घर आया हुया था. लेकिन 6 फरवरी को वो एक घर में संदिग्ध रूप से जला हुआ पाया गया. आनन-फानन में उसे इलाज के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. 

अफजल ने राजीव बनकर किया ‘लव जिहाद’, अब खतने से इंकार पर बीवी-बच्चों को कमरे में बंद कर लगा दी आग

पुलिस को हुआ ट्रक ड्राइवर पर शक 
इस मामले में मृतक के भाई ने तीन लोगों को नामजद किया था. घटना के पीछे पुरानी रंजिश बताई गई. लेकिन पुलिस ने इस मामले की गहराई से छानबीन की तो पता चला कि जिस घर में कन्हैया लाल को जलाया गया था, वह घर एक महिला का था. उस घर में पीएसी के जवान कन्हैया के साथ-साथ अरविन्द नाम के ट्रक ड्राइवर का भी आना-जाना था. दोनों के ही महिला से संबंध थे. 

बन गई बात! 3 फुट के अजीम मंसूरी के लिए ढाई फुट की रेहाना का आया रिश्ता

इसलिए ट्रक ड्राइवर ने किया हत्या 
पुलिस ने ट्रक ड्राइवर अरविंद को जब हिरासत में लेकर पूछताछ की तो कन्हैया की हत्या का खुलासा हो गया.आरोपी अरविंद ने पुलिस को बताया कि उसने ही कन्हैया को मौत के घाट उतारा है. उसने बताया कि उसको कन्हैया का उस महिला के घर आना अच्छा नहीं लगता था. इसलिए उसे जलाकर मार डाला.

शेर ने किया शख्स पर हमला, Lion Attack का वीडियो हो रहा है वायरल

क्या बोली पुलिस 
पीएसी जवान हत्या का खुलासा करते हुए एसएसपी अजय कुमार ने बताया कि बीते चार फरवरी की रात कन्हैया महिला के घर पर सो रहा था. उस दिन महिला अपने रिश्तेदार के यहां गई थी. रात के करीब दस बजे अरविंद महिला के घर पर पहुंचा. इस दौरान उसने कन्हैया को वहां सोते हुए देखा. इसके बाद उसने सोते हुए पीएसी जवान के कपड़ों में आग लगा दिया. आग लागने के बाद मौके से फरार हो गया. आस-पास के लोग कन्हैया को अस्पताल लेकर गए,जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

ऐसे हुआ खुलासा 
मृतक के भाई योगेश कुमार ने थाने में तीन लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया. तीनों लोग जांच में निर्दोष पाए गए. इसके बाद पुलिस को महिला पर शक हुआ. पुलिस ने महिला के कॉल डिटेल निकलवाई तो अरविंद और मृतक कन्हैया से बातचीत पाया गया. इसके बाद पुलिस ने ट्रक ड्राइवर से जब सख्ती से पूछताछ क तो पूरा राज खुल गया. वहीं, पुलिस ने अरविंद को हत्या की जूर्म में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. 

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *