Farmer’s Protest: राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने किया आंदोलनकारी किसानों का समर्थन, कहा- रुकवाई Rakesh Tikait की गिरफ्तारी


बागपत: मेघालय (Meghalaya) के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satyapal Malik) ने केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों (Farm Law’s) का विरोध कर रहे किसानों का पक्ष लेते हुए रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) से किसानों को नाराज नहीं करने की गुजारिश की है.

‘MSP को कानूनी मान्यता देने से निकलेगा रास्ता’

गृह जनपद में आयोजित अपने अभिनंदन समारोह में मलिक ने कहा कि केंद्र सरकार फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को कानूनी मान्यता दे दे तो किसान मान जाएंगे. उन्होंने कहा, ‘कोई भी कानून किसान के पक्ष में नहीं है. जिधर भी जाते हैं वहां लाठीचार्ज हो जाता है. जिस देश का किसान और जवान जस्टिफाइड नहीं होगा उस देश को कोई बचा ही नहीं सकता.’

रुकवाई टिकैत की गिरफ्तारी: सत्यपाल मलिक

मलिक ने कहा, ‘सरदार कौम पीछे नहीं हटती और 300 साल बाद भी बात नहीं भूलती. इंदिरा गांधी ने भी ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद महामृत्युंजय मंत्र का जाप कराया था.’ मलिक ने यह भी कहा कि उन्होंने जब किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की गिरफ्तारी की सुगबुगाहट सुनी तो मैनें फोन करके इसे रुकवाया.

ये भी पढ़ें – Farmer’s Protest: नवंबर-दिसंबर तक खिंच सकता है आंदोलन, Rakesh Tikait ने दिए संकेत

राज्यपाल ने कहा कि देश में किसान का बुरा हाल है. किसान प्रतिदिन गरीब हो रहा है जबकि सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों का वेतन हर तीसरे साल बढ़ जाता है.

किसानों से जताई हमदर्दी

मेघालय के राज्यपाल ने कहा, किसान जो बोता है वो सस्ता और जो खरीदता है वो महंगा हो जाता है. इन्हें तो पता भी नही है कि ये बिना जाने ही गरीब कैसे हो रहे हैं. मैं किसान परिवार से हूं, इसलिए उनकी तकलीफ समझता हूं. किसानों की समस्या हल कराने के लिए जहां तक जाना पड़ेगा जाऊंगा.’

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *