AICTE का बड़ा फैसला: अब इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए 12वीं में मैथ्स और फिजिक्स पढ़ना जरूरी नहीं, MP के लाखों छात्रों को होगा फायदा


नई दिल्ली. ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (AICTE) ने इंजीनियरिंग की  पढ़ाई को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. जिसके अनुसार अब बीई या बीटेक कोर्स करने के लिए 12वीं क्लास तक मैथ्स और फिजिक्स लेना अनिवार्य नहीं है. देशभर में यह नियम सत्र 2021-22 से लागू हो जाएगा.  AICTE के इस फैसले से देशभर के छात्रों के अलावा मध्य प्रदेश के लाखों छात्रों को फायदा होगा.   AICTE की तरफ से यह फैसला विविध पृष्ठभूमि से इंजीनियरिंग के अध्ययन के लिए आने वाले छात्रों को राहत देने के लिए लिया गया है.

MP Board Class 10th Exam: सामान्य हिंदी विषय में ऐसे मिलेंगे अच्छे मार्क्स, यहां देखें मार्किंग स्कीम और सैंपल पेपर

इससे पहले इंजीनियरिंग और टेक्नोलॉजी के अंडरग्रेजुएट कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए छात्रों मैथ्स और फिजिक्स विषय से पढ़ाई करना जरूरी होता था. ऐसे में जिन छात्रों का 12वीं में फिजिक्स और मैथ्स नहीं होता था, वे यह कोर्स नहीं कर पाते थे. 

AICTE के संशोधित नियमों के अनुसार, इंजीनियरिंग के स्नातक कोर्सेज में एडमिशन के लिए आवेदन करने के लिए छात्रों को 12वीं में कम से कम 45 प्रतिशत अंकों की जरूरत होगी और 14 विषयों की सूची में से तीन विषयों में पास होना आवश्यक होगा.

MP Police Constable Exam Pattern: यहां जानें परीक्षा पैटर्न और अन्य डिटेल्स

ये है 14 विषयों की सूची
14 विषयों में भौतिकी, गणित, रसायन विज्ञान, कंप्यूटर विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी, जीव विज्ञान, इनफॉर्मेटिक्स प्रैक्टिस, जैव प्रौद्योगिकी, तकनीकी व्यावसायिक विषय, इंजीनियरिंग ग्राफिक्स, व्यावसायिक अध्ययन, अंत्रप्रेन्योरशिप विषयों को सूची में शामिल किया गया है.

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *