Corona के बढ़ते मामलों के बीच Maharashtra में लागू हो सकता है Lockdown, CM Uddhav Thackeray ने दिए संकेत


मुंबई: कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में दोबारा लॉकडाउन लग सकता है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अगले एक दो दिन में हालात का जायजा लेने के बाद इस बारे में फैसला लेंगे. सीएम उद्धव ठाकरे ने साफ कह दिया है कि ये लोगों को तय करना है कि वो नियमों का पालन करेंगे या फिर दोबारा लॉकडाउन चाहते हैं.

महाराष्ट्र में एक बार फिर लॉकडाउन?

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के नागपुर में लॉकडाउन लागू किया जा चुका है और राज्य के कई जिलों में भी नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. कोरोना वायरस के बढ़ रहे मामलों ने बीएमसी की चिंता बढ़ा दी है. मुंबई में बुधवार को कोरोना के 1,539 नए मामले सामने आए जो 154 दिनों में सबसे ज्यादा हैं. इस बार के कोरोना मरीजों की कुल संख्या में 90 प्रतिशत वो लोग हैं जो बिल्डिंग में रहते हैं. यानी कोरोना के 100 मामले आ रहे हैं तो उसमें से 90 केस बिल्डिंग में रहने वाले लोगों के हैं.

सीरो सर्वे में सामने आई ये बात

इसके साथ ही लोगों में एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए बीएमसी की तरफ से किए गए सीरो सर्वे में ये बात भी सामने आई है कि झोपड़पट्टी में रहने वाले 46 प्रतिशत और बिल्डिंग में रहने वाले 21 प्रतिशत लोगों में एंटीबॉडी बनी है. ये पहले हफ्ते की रिपोर्ट है. बीएमसी का ये सर्वे पूरे महीने चलेगा. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य के मुख्यमंत्री मुंबई के जेजे हॉस्पिटल पहुंचे और उन्होंने कोरोना वैक्सीन ली.

ये भी पढ़ें- ममता की चोट पर TMC नेता का भड़काऊ बयान, बोले- अगर गुजरात में होता तो ‘गोधरा’ हो जाता

सीएम उद्धव ठाकरे ने क्या कहा

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन मिले इस दिशा में काम कर रहे हैं. कुछ जगहों पर हालात खराब हो रहे हैं इसलिए लॉकडाउन करना पड़ सकता है. अगर लॉकडाउन नहीं चाहते तो लोग वैक्सीन लें, मास्क लगाएं और हाथ धोएं.

हालात पर काबू पाने के लिए BMC उठा सकती है ये कदम

बिल्डिंगों में कोरोना के मामलों को देखकर अब बीएमसी इन पर कड़ा रूख अपनाने की तैयारी कर रही है. इन नियमों के तहत घर में कोरोना संक्रमित शख्स को अलग रखा जाएगा. उसका वाशरूम अलग होगा, अगर ऐसा नहीं हो पा रहा तो उन्हें क्वारंटाइन सेंटर भेजा जाएगा. इसके साथ ही कई बार ये देखा गया कि क्वारंटाइन किए गए लोग बाहर घूमते नजर आते हैं. अगर ऐसा होता है तो उनके खिलाफ पुलिस में केस दर्ज करवाया जाएगा.

ये भी पढ़ें- नागपुर में 15 से 21 मार्च तक Lockdown; जानें क्‍या खुलेगा और क्‍या रहेगा बंद

बता दें कि राज्य के कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे भी लोगों से कोरोना के नियमों का पालन करने की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने वैक्सीन लिया है. ऐसे ही जो-जो लोग उसके दायरे में आते हैं वो वैक्सीन लें. इस वैक्सीन का दुष्परिणाम कम है. आप सब लोगों ने मास्क पहना है. ऐसे ही सभी लोग मास्क पहनें तो कोरोना के मामले कम हो जाएंगे.

गौरतलब है कि जिस बिल्डिंग में कोरोना मरीजों की संख्या ज्यादा है, वहां नौकरी पर जाने वाले लोगों, काम करने वाले लोगों और दूध-सब्जी जैसे सामान पहुंचाने वाले लोगों के भी कोराना टेस्ट किए जाएंगे. मुंबई में बीएमसी ने 9 मार्च तक कोरोना मरीजों के मिलने के कारण कुल 2,762 फ्लोर सील किए हैं. इन फ्लोर में कुल 4,183 लोग कोरोना मरीज हैं. इसके अलावा बीएमसी ने कुल 214 बिल्डिंगों को सील किया है.

नांदेड़ में नाइट कर्फ्यू लगाने का आदेश

जान लें कि महाराष्ट्र में नांदेड़ के डीएम ने नाइट कर्फ्यू का आदेश दिया है. 12 मार्च से 21 मार्च तक नांदेड़ में नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा. इस दौरान रात के 7 बजे से सुबह 7 बजे तक सारी दुकानें बंद रहेंगी. सिर्फ मेडिकल की दुकानों के खुलने की परमिशन रहेगी. सभी कोचिंग क्लासेस को बंद करने का आदेश है.

इसके अलावा सभी वीकली मार्केट बंद रहेंगे. जिन शादियों को 15 मार्च तक की मंजूरी मिली है वही शादियां होंगी. उनमें भी 50 से ज्यादा लोग नहीं होने चाहिए. 16 मार्च के बाद शादियां नहीं होंगी. सभी सरकारी, सामाजिक और धार्मिक कार्यक्रम बंद रहेंगे. 12 मार्च को रात 12 बजे से कर्फ्यू लागू होगा.

VIDEO



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *