Electric Vehicle को चार्ज करने का झंझट खत्म! दिल्ली की हर कॉलोनी में लगेंगे Charging stations


Electric Vehicles: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से आम आदमी की कमर टूट रही है. इसका इलाज सिर्फ एक ही है कि पेट्रोल-डीजल की जगह इलेक्ट्रिक गाड़ियों का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जाए. लेकिन सबसे बड़ा रोड़ा ये है कि हमारे देश में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए पर्याप्त इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है. जैसे पेट्रोल-डीजल की गाड़ियों के लिए जगह जगह पेट्रोल पम्प हैं, वैसे ही इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए हर जगह चार्जिंग प्वाइंट्स होने चाहिए. 

चार्जिंग स्टेशनों की समस्या होगी दूर

दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक गाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए Switch Delhi अभियान चला रखा है. जिसके तहत दिल्ली के लोगों को इलेक्ट्रिक गाड़ियां खरीदने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. उन्हें सब्सिडी और दूसरी तरह की सहूलियतें दी जा रही हैं. लेकिन सबसे बड़ी समस्या चार्जिंग स्टेशनों को लेकर भी एक बड़ा प्लान भी बनाया है. 

ये भी पढ़ें- फर्जी SMS से जल्द मिल सकती है राहत, TRAI के नए नियम अगले 7 दिन में होंगे लागू, लेकिन यहां फंसा है पेंच

हर कॉलोनी में लगेंगे चार्जिंग स्टेशन 

दिल्ली सरकार लोगों को उनकी कॉलोनियों में ही चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Station) मुहैया कराने पर विचार कर रही है. दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि स्विच दिल्ली अभियान के तहत शहर में आवासीय कॉलोनियों में इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए चार्जिंग स्टेशन बनाने को लेकर एक प्लान तैयार किया जा रहा है, जिससे  लोगों को अपने इलेक्ट्रिक वाहन की चार्जिंग के लिए कहीं भटकने की जरूरत नहीं होगी. 

सस्ते में चार्ज होंगी इलेक्ट्रिक गाड़ियां

दिल्ली के ट्रांसपोर्ट मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि लोगों को इलेक्ट्रिक गाड़ियों को चार्ज करने का खर्चा कम आए इसके लिए दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलारिटी कमीशन (DERC) ने पहले ही चार्जिंग की रेट कम कर दिए हैं. DERC के मुताबिक अगर आप घर पर अपनी इलेक्ट्रिक गाड़ी को चार्ज करते हैं तो आपको प्रति किलोवाट 4.5 रुपये देने होंगे. पहले यह चार्ज 5.5 रुपये था. इसके अलावा अगर आप चार्जिंग स्टेशन पर इलेक्ट्रिक वाहन को चार्ज करते हैं तो आपको 4 रुपये प्रति किलोवाट के हिसाब से पेमेंट करना होगा, पहले यह 5 रुपये/किलोवाट था.

दिल्ली में बनेंगे 500 चार्जिंग स्टेशन

दिल्ली का बजट पेश करते हुए दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भी कहा कि अगले 25 सालों में वो दिल्ली का पूरा ट्रांसपोर्ट सिस्टम ही इलेक्ट्रिक व्हीकल कर देंगे. उन्होंने कहा कि जब देश अपना 100वां आजादी का उत्सव मना  रहा होगा तब हमारी दिल्ली गाड़ियों के प्रदूषण से 100 परसेंट मुक्त हो चुकी होगी. मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली में बहुत जल्द इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशनों की संख्या भी 72 से बढ़ाकर 500 की जाएगी. लंदन की तर्ज पर रैपिड चार्जिंग प्वाइंट्स भी बनाए जाएंगे. हमारा लक्ष्य दिल्ली में हर तीन किलोमीटर पर एक चार्जिंग स्टेशन बनाने का है. 

‘दिल्ली में 2024 तक 25 परसेंट गाड़ियां इलेक्ट्रिक होंगी’ 

इसके पहले 4 फरवरी को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि ‘2024 तक दिल्ली में जितनी भी गाड़ियां खरीदी जाती हैं, उसमें से कम से कम 25 परसेंट इलेक्ट्रिक गाड़ियां होनी चाहिए, ऐसा खाका तैयार करना है. इसके लिए लोग ज्यादा से ज्यादा इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदें, दिल्ली सरकार ने बड़े स्तर पर सब्सिडी का प्लान बनाया है. 

‘इलेक्ट्रिक व्हीकल पर मिलेगी इतनी सब्सिडी’

अरविंद केजरीवाल ने बताया कि ‘जैसे आप टू-व्हीलर या थ्री व्हीलर खरीदते हैं तो आपको 30,000 रुपये तक की सब्सिडी आपको मिल सकती है. अगर आप 4-व्हीलर खरीदते हैं तो आपको लगभग 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी मिलती है. ये सब्सिडी भी आपके व्हीकल खरीदने के 3 दिन के अंदर आपके अकाउंट में आ जाती है. और जितने भी इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदे जाएंगे उस पर कोई रोड टैक्स नहीं लगेगा, रजिस्ट्रेशन चार्जेस नहीं लगेंगे, वो भी फ्री होगा.’ 

ये भी पढ़ें- Gold Price Today, 10 March 2021: त्योहारों से पहले सस्ता हुआ सोना, इस साल 5200 रुपये तक गिर चुके हैं दाम

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *