किडनैप होने वाला ही निकला किडनैपर, पढ़िए फिरोजाबाद की Crime Story


प्रेमेंद्र कुमार/फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई. जहां एक स्कूल प्रबंधक के अपहरण का केस दर्ज कराया गया. पुलिस जांच करती रही, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला. कुछ दिनों बाद अचानक स्कूल प्रबंधक रहस्यमय तरीके से आगरा जिले के थाना क्षेत्र के बाहर मिल गए. लेकिन जब पुलिस ने उनसे पूछताछ की, तो पूरा केस ही बदल गया और अंत में प्रबंधक को ही जेल भेज दिया गया. 

Viral Video: नहीं हैं दो पैर और एक हाथ,फिर भी ये शख्स कर लेता है वेटलिफ्टिंग

क्या है पूरा मामला? 
शिकोहाबाद थाना क्षेत्र में संचालित होने वाले ब्रह्मानंद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के प्रबंधक राम प्रताप यादव  25 फरवरी को रहस्यमय तरीके से लापता हो गए.राम प्रताप की पत्नी ने कुछ लोगों को नामजद करते हुए हत्या के लिए अपहरण करने का केस दर्ज कराया. पुलिस ने जांच शुरू की, तो  स्कूल प्रबंधक की बाइक, हेलमेट, मोबाइल और एक जूता भी नहर के किनारे से बरामद हुआ. पुलिस ने तलाश की, लेकिन राम प्रताप नहीं मिले. 

पुलिस के मुताबिक, जिन लोगों पर हत्या के इरादे से अपहरण करने का आरोप लगाया गया, उनसे रामप्रताप की दुश्मनी चल रही है. राम प्रताप के पिता का भी साल 2018 में मर्डर हुआ था जिसकी पैरवी रामप्रताप कर रहे थे. घटना के पीछे एक स्कूल का विवाद है.

ट्रेन में मिले लावारिस बैग को जब पुलिस ने खोल,  निकले 1 करोड़ रुपये, लेकिन….

पूछताछ में बदल गया केस
एसएसपी अजय कुमार के मुताबिक, जब स्कूल प्रबंधक राम प्रताप से अपहरण के मामले में पूछताछ की गई, तो उन्होंने कई विरोधाभासी बयान दिए. स्कूल प्रबंधक राम प्रताप ने यह बताया कि अपहरणकर्ताओं ने उन्हें पीटा था. साथ ही बांधकर रखा गया था, लेकिन डॉक्टर्स की रिपोर्ट में न तो कोई पिटाई का निशान मिला और न ही रस्सी का कोई निशान पाया गया. इसके अलावा और भी कई बातें हैं, जिससे अपहरण की कहानी मेल नहीं खा रही थी. लिहाजा जब उनसे कड़ाई से पूछताछ की गई, तो उन्होंने फर्जी अपहरण की बात स्वीकार की. बस  क्या था, फिर पुलिस ने अब रामप्रताप को जेल भेज दिया. वहीं, साजिश रचने में अन्य 4 लोगों पर भी कार्रवाई की जा रही है. 

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *