Rajasthan: जिंदा जलायी गई रेप पीड़िता की मौत, आरोपी सहित 2 लोग गिरफ्तार


Jaipur: राजस्थान में जिंदा जलाई गई बलात्कार पीड़िता की शनिवार सुबह इलाज के दौरान जयपुर के अस्पताल में मौत हो गई. पुलिस ने इस सिलसिले में पूछताछ के लिए दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है, जिनमें एक व्यक्ति वह है जिसके खिलाफ महिला ने दो साल पहले बलात्कार की प्राथमिकी दर्ज करायी थी.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने मुख्यमंत्री सहायता कोष से प्रभावित परिवार को पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी है. यह घटना हनुमानगढ़ जिले की है. पुलिस ने बताया कि गुरुवार तड़के एक व्यक्ति पीड़िता के मकान में घुसा और बाहर से कमरे में मिट्टी का तेल छिड़क कर दरवाजा खटखटाया. जब पीड़िता ने दरवाजा खोला आरोपी ने जलती हुई एक लकड़ी उसकी ओर फेंक दी जिससे वहां आग लग गयी और महिला बुरी तरह से झुलस गयी.

झुलसी हुई महिला को पहले CHC गोलूवाला ले जाया गया और बाद में जयपुर के SMS अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शनिवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. महिला की नानी का आरोप है कि उनकी नातिन के साथ बलात्कार करने वाले प्रदीप विश्नोई ने उसे जिंदा जलाया है.

पुलिस का कहना है कि मामले में जांच चल रही है और विश्नोई की भूमिका की जांच की जा रही है. पहले वाले मामले में विश्नोई जमानत पर है और पुलिस उससे इस मामले में भी पूछताछ कर रही है. पुलिस सूत्रों के अनुसार, CCTV फुटेज में एक व्यक्ति घटना के बाद पीड़िता के घर से जाता दिख रहा है लेकिन उसकी पहचान नहीं हो पाई है.

राज्य के पुलिस महानिदेशक एम. एल. लाठर ने बताया कि घटना को काफी गंभीरता से लिया गया और मामले की जांच की जा रही है. इस सिलसिले में हिरासत में लिए गए दो संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की जा रही है. उन्होंने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन की निगरानी में पुलिस उपाधीक्षक एस आई सी ए डब्ल्यू यूनिट, हनुमानगढ़ द्वारा जांच की जा रही है. अनुसंधान अधिकारी की मदद में साइबर तकनीक में दक्ष पुलिस कर्मियों को भी जांच टीम में शामिल किया गया है. आधिकारिक बयान के अनुसार, राज्य सरकार ने मृतका के परिवार को मुख्यमंत्री राहत कोष से पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी है.

(इनपुट-भाषा)



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *