International Women’s Day: जानिए क्यों होती है इस Lady Singham के कार्यों की चर्चा?


Baran News: कोरोना काल के बीच आशा जितनी सजगता के साथ अपनी ड्यूटी करती थी, उतनी ही जिम्मेदारी के साथ आशा ने उन लोगों तक राहत पहुंचाने का बीड़ा उठाया जिनके लिए कोरोना काल के बीच अपने पेट को भरना एक चैलेंज बन गया था.

बारां में पुलिस अधिकारी हैं आशा सिंह बारहट. (प्रतीकात्मक तस्वीर)



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *