UP Panchayat Chunav 2021: पूरी करनी होंगी ये शर्तें, हासिल करने होंगे ये कागज; तभी लड़ पाएंगे प्रधानी का चुनाव


लखनऊ: आरक्षण लिस्ट जारी होने के बाद उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav 2021) को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई हैं. ये बात तय हो गई है कि किसी सीट पर कौन चुनाव लड़ सकता है.  ऐसे में प्रत्याशियों ने चुनाव  को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं.  कुछ ऐसे हैं, जिनको पहले चुनाव लड़ने का अनुभव है. लेकिन कई युवा भी हैं, जो गांव की किस्मत बदलने के लिए प्रधान बनने की ख्वाहिश रखते हैं. लेकिन चुनाव लड़ने से पहले उम्मीदवारों को कुछ बातें जान लेना जरूरी हैं. कुछ ऐसी शर्तें हैं, अगर उम्मीदवार पूरा नहीं करते हैं, तो वह चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. आइए जानते हैं उन शर्तों और नियमयों के बारे में….

प्रधान बनने के लिए क्या है जरूरी शर्तें
ग्राम प्रधान बनने के लिए कुछ योग्याताएं जरूरी हैं-
1.कम से कम 21 साल की उम्र होना चाहिए.
2.भारतीय नागरिक होना चाहिए.
3.पागल या दिवालिया नहीं होना चाहिए. 
4.  सजायाफ्ता नहीं होना चाहिए. 

बिना इस कागज नहीं लड़ पाएंगे चुनाव
सामान्य शर्तों के अलावा कुछ ऐसे कागज भी हैं, जिनके बिना प्रत्याशी चुनाव नहीं लड़ सकते हैं.  अगर प्रत्याशी सहकारी समितियों और बैंक के बकायेदार है, तो चुनाव नहीं लड़ सकते हैं. चुनाव लड़ने से पहले किस्त अदा कर नोड्यूज देना होता है. दरअसल, सरकार इसके जरिए सहकारी समितियों के बकायों में कमी लाना चाहती है. 

क्या शैक्षणिक योग्यताएं भी हैं जरूरी? 
भारत में पंचायत चुनाव में शैक्षणिक योग्यताएं लागू करने की चर्चा लंबे से चल रही है. कई राज्यों में ग्राम प्रधान के चुनाव के लिए शैक्षणिक योग्यता तय भी की गई हैं. लेकिन उत्तर प्रदेश में अभी कुछ ऐसा नहीं है. उत्तर प्रदेश कम पढ़ लिखे प्रधान उम्मीदवारों को लेकर चर्चा चल रही थी. हालांकि, सरकार ने अभी ऐसा कोई फैसला नहीं लिया है. 

क्या है चुनाव लड़ने की प्रक्रिया?
गांव में हर पांच साल के बाद ग्राम प्रधान पद के चुनाव कराए जाते हैं. सबसे पहले राज्य सरकार, निर्वाचन आयोग को इसके लिए अपनी स्वीकृति देता है. इसके बाद आयोग अधिसूचना जारी करता है. अब प्रधान के चुनाव लड़ने के इच्छुक व्यक्ति अधिसूचना के कैलेंडर के अनुसार पर्चा दाखिल  कर सकते हैं. अगर पर्चा सही भरा गया है, तो निर्वाचन कार्यलय की ओर चुनाव चिन्ह दिया जाता है. इसके बाद सभी प्रत्याशियों को अपने लिए प्रचार करने का समय भी दिया जाता है. सबसे अधिक वोट पाने वाला ग्राम प्रधान बंद जाते हैं. 

कब होंगे चुनाव? 
बता दें कि पंचायत चुनाव को लेकर अभी तारीखों की घोषणा नहीं हुई है. हालांकि, उम्मीद जताई जा रही है मार्च के लास्ट तक डेट्स सामने आ जाएंगी. वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि चुनाव 24 अप्रैल से पहले समाप्त हो जाएंगे. 

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *