Ease of Living Index: भारत में रहने के लिए बेंगलुरु और शिमला हैं सबसे बेस्ट, यहां चेक करें आपकी City का नाम


नई दिल्ली: भारत में 10 लाख से अधिक की आबादी वाले शहरों में रहने के लिहाज से बेंगलुरु टॉप पर है. ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स की 111 शहरों की सूची में बेंगलुरु के अलावा पुणे और अहमदाबाद जैसे शहर भी टॉप लिस्ट में शामिल हैं, जबकि बरेली, धनबाद और श्रीनगर आखिरी पायदान वाले शहरों में से एक हैं. इस रैंकिंग को आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने घोषित किया.

10 लाख से कम आबादी वाले शहर में शिमला टॉप पर

शहरी विकास मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 10 लाख से कम की आबादी वाले शहरों में शिमला पहले स्थान पर है, जबकि बिहार का मुजफ्फरपुर आखिरी नंबर पर आता है. 10 लाख से कम आबादी वाले शहरों में शिमला के बाद भुवनेश्वर, सिलवासा, ककिनादा, सलेम, वेल्लोर, गांधीनगर, गुरुग्राम, दावणगेरे और तिरुचिरापल्ली हैं.

लाइव टीवी

म्यूनिसिपैलिटी में कौन बेस्ट

शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने इसके साथ ही टॉप म्यूनिसिपैलिटीज की लिस्ट भी जारी की. इसे भी दो कैटेगरी 10 लाख से कम आबादी और 10 लाख से ज्यादा आबादी में बांटा गया. 10 लाख से ज्यादा आबादी वाली कैटेगरी में इंदौर बेस्ट नगर निगम रहा. इसके बाद सूरत और भोपाल भी टॉप लिस्ट में शामिल हैं. जबकि 10 लाख से कम आबादी वाली कैटेगरी में नई दिल्ली म्यूनिसिपल काउंसिल (NDMC) नंबर वन पर है. इसके बाद तिरुपति, गांधीनगर, करनाल, सलेम, तिरुप्पुर, बिलासपुर, उदयपुर, झांसी और तिरुनेलवेली रहे.

इस आधार पर तय की गई शहरों की रैंकिंग

ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स में शहरों की रैंकिंग जीवन की गुणवत्ता और शहरी विकास के लिए विभिन्न पहलुओं के आधार पर तय की गई हैं. इसमें शहरों में जीवन की गुणवत्ता, शहर की इकोनॉमिक एबिलिटी, सस्टेनेबिलिटी और रिजीलिएंस को भी समझा जाता है. वहीं नगर निगमों का आकलन सर्विसेज, फाइनेंस, पॉलिसी, टेक्नोलॉजी और गवर्नेंस के आधार पर किया गया है.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *