इंदौर नगर निगम ने फिर रचा इतिहास, स्वच्छता के बाद इस काम में भी बना नंबर वन


इंदौरः लगातार चार बार स्वच्छता रैंकिंग में देश में नंबर वन रहने वाले इंदौर शहर ने एक बार फिर इतिहास रचा है. केंद्र सरकार द्वारा जारी म्युनिसिपल परफॉर्मेंस इंडेक्स में देश के 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में इंदौर नगर निगम को पहला स्थान मिला है. दरअसल, आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने नगर निगमों के कामों की रैंकिंग जारी की है. जिसमें 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले इंदौर नगर निगम को उसके बेहतर काम के लिए देशभर में नंबर वन स्थान प्राप्त हुआ है. इसके अलावा राजधानी भोपाल को तीसरा स्थान हासिल हुआ है. जबकि गुजरात के सूरत शहर को दूसरा स्थान मिला है. 

जनहित के लिए इंदौर नगर निगम ने किया काम
इंदौर की इस उपलब्धि पर इंदौर नगर निगम की कमिश्नर प्रतिभा पाल का कहना है कि यह रैंकिंग पब्लिक सर्विस डिलीवरी, नगर निगम द्वारा संचालित की जा रही विकास कार्यों की योजनाएं, स्वास्थ्य, शिक्षा, और नगर निगम द्वारा तय किए गए विभिन्न टैक्सों की रिकवरी पर जो पैसा आया उसका उपयोग जनहित में खर्च किए जाने पर मिली है. उन्होंने कहा कि जिस तरीके से इंदौर नगर निगम को नंबर वन का तमगा मिला है, इससे यह साबित हो गया है कि इंदौर नगर निगम जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरा है. 

कमिश्नर प्रतिभा पाल ने कहा कि इस उपलब्धि के लिए न केवल इंदौर नगर निगम के अधिकारी बधाई के पात्र हैं बल्कि इंदौर की जनता भी बराबर की भागीदार है. क्योंकि जिस तरीके से यहां के लोगों के द्वारा इंदौर के विकास को लेकर प्रतिबद्धता दिखाई गई है बहुत ही सराहनीय है.  उन्होंने कहा कि अब हम सबकी जिम्मेदारी है हमें इस उपलब्धि को आंगे भी बरकरार रखना है और अपनी सुविधाओं को और बेहतर बनाना है. 

ये भी पढ़ेंः सीएम शिवराज ने हमीदिया अस्पताल में लगवाई कोरोना वैक्सीन, पत्नी साधना सिंह भी थीं साथ

इंदौर के लोगों ने भी जताई खुशी
वही इंदौर को नंबर वन का तमगा मिलने पर स्थानीय लोगों का कहना है कि हम लोग लगातार यह देख रहे हैं कि इंदौर नगर निगम द्वारा लगातार इंदौर की बेहतरी के लिए काम किए जा रहे हैं, चाहे वह स्वच्छता का मुद्दा हो या फिर बेहतर सड़क, स्वास्थ्य और शिक्षा का, हर जगह इंदौर नगर निगम अच्छा काम कर रहा है. जिससे इंदौर के लोग भी जागरूक हो रहे हैं. 

10 लाख से ज्यादा आबादी वाले नगर निगमों का स्कोर 

  • 1. इंदौर 66.08 अंक के साथ पहले स्थान पर 
  • 2. सूरत 60.80 अंक के साथ दूसरे स्थान पर 
  • 3. भोपाल 59.04 अंक के साथ तीसरे स्थान पर 

10 लाख से कम आबादी वाले नगर निगमों का स्कोर 

  • 1. एनडीएमसी- 52.92 अंक के साथ पहले स्थान पर 
  • 2. तिरुपति -51.69 अंक के साथ दूसरे स्थान पर 
  • 3. गांधी नगर -51.59 अंक के साथ तीसरे स्थान पर 

ये भी पढ़ेंः महाशिवरात्रि पर इस बार 25 हजार श्रद्धालु ही कर सकेंगे महाकाल का दर्शन, जानिए वजह

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *