Assam Assembly Election 2021: टिकट बंटवारे पर BJP में मंथन, जल्द तय होगा गठबंधन का सीट शेयरिंग फॉर्मूला


नई दिल्ली: आगामी असम विधान सभा चुनाव (Assam Assembly Election 2021) के मद्देनजर भाजपा (BJP) और उसके सहयोगी दल असम गण परिषद (Asom Gana Parishad- AGP)) और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (United People’s Party Liberal- UPPL) सीटों के तालमेल को अंतिम रूप देने में जुट गए हैं. इस सिलसिले में तीनों दलों के शीर्ष नेताओं के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के आवास पर बुधवार को एक अहम बैठक हुई. सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में सीटों के तालमेल को अंतिम रूप देने पर चर्चा हुई. 

जेपी नड्डा समेत ये नेता रहे मौजूद

इस बैठक में भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda), असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल (Sarvanand Sonoval), प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत दास, एजीपी के अध्यक्ष व राज्य सरकार के मंत्री अतुल बोरा, यूपीपीएल के प्रमुख प्रमोद बोरो, भाजपा नेता व मंत्री हेमंत विश्व सरमा भी मौजूद थे. एक सूत्र ने बताया, ‘तीनों दलों के बीच सीटों के समझौते को बुधवार रात अंतिम रूप दिया जा सकता है.’ 

किसे मिलेंगी कितनी सीटें?

सूत्रों ने बताया कि सीटों के तालमेल के मुताबिक एजीपी को 22 सीटें जबकि यूपीपीएल को 12 सीटें मिल सकती हैं. पिछले विधान सभा चुनाव में अगप को 14 सीटों पर जीत मिली थी. यूपीपीएल भाजपा के साथ गठबंधन का हाल ही में हिस्सा बनी है. फिलहाल विधान सभा में उसका एक भी सदस्य नहीं है.

ये भी पढ़ें- तमिलनाडु में चुनाव से पहले शशिकला ने लिया सियासी संन्यास, ‘अम्मा’ को लेकर कही ये बात

वर्ष 2016 के विधान सभा चुनाव में भाजपा को 60 सीटों पर जीत मिली थी. वह शेष सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. असम विधानसभा में 126 सीटें हैं.

PM मोदी ले सकते हैं बैठक में हिस्सा? 

शाह के आवास पर हुई संयुक्त बैठक के बाद भाजपा नेता जेपी नड्डा के निवास पर अलग से बैठक करेंगे और उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा करेंगे. उम्मीदवारों की पहली सूची पर भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति में गुरुवार को मंथन होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भी इस बैठक में शामिल होने की संभावना है.

3 चरणों में मतदान

असम में 27 मार्च से 6 अप्रैल के बीच तीन चरणों में मतदान संपन्न होगा. पहले चरण के तहत राज्य की 47 विधानसभा सीटों पर 27 मार्च को, दूसरे चरण के तहत 39 विधानसभा सीटों पर एक अप्रैल और तीसरे व अंतिम चरण के तहत 40 विधानसभा सीटों पर 6 अप्रैल को मतदान संपन्न होगा. नामांकन की आखिरी तारीख नौ मार्च है.

पहले चरण में जिन सीटों पर मतदान होना है उनमें माजुली और बोकाखाट विधानसभा सीटें प्रमुख हैं. सोनोवाल माजुली से जबकि अगप के बोरा बोकाखाट से विधायक हैं.

भाजपा के सामने ये चुनौती 

इस बार असम में भाजपा को अपनी सत्ता बचाने की चुनौती है. वहां उसका सामना कांग्रेस और एआईयूडीएफ के गठबंधन से है. भाजपा ने पिछले विधानसभा चुनाव में 10 सालों के कांग्रेस शासन का अंत करते हुए पहली बार पूर्वोत्तर के किसी राज्य में सत्ता हासिल की थी.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *