Gujarat Local Body Elections: कांग्रेस की करारी हार के बाद दो बड़े नेताओं के इस्तीफे


अहमदाबाद: गुजरात (Gujarat) में स्थानीय निकाय चुनाव (Local Body Election in Gujarat) में बीजेपी (BJP) ने कांग्रेस (Congress) को करारी शिकस्त दी है. हार के बाद पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अमित चावडा (Amit Chavda) और विपक्ष के नेता परेश धानाणी (Paresh Dhanani) ने मंगलवार को अपने पदों से इस्तीफा दे दिया.

EVM पर फोड़ा हार का ठीकरा

चावड़ा ने कहा कि लोगों ने ईवीएम (EVM) पर संदेह जताया है और इन सभी चीजों की जांच होनी चाहिए. कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने कहा कि भविष्य के कदम के बारे में फैसला अब कांग्रेस के शीर्ष पदाधिकारियों को करना है.

चावडा ने कहा, ‘प्रदेश कांग्रेस प्रमुख के रूप में चुनाव परिणामों की जिम्मेदारी लेते हुए, मैंने अपना इस्तीफा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंप दिया है.’ उन्होंने कहा कि वह अब पार्टी के एक सामान्य कार्यकर्ता के तौर पर काम करेंगे.

ये भी पढ़ें- गुजरात में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत, कांग्रेस का सूपड़ा साफ

BJP की ऐतिहासिक जीत

मंगलवार को सत्तारूढ़ भाजपा ने सभी 31 जिला पंचायतों, 81 नगरपालिकाओं में से 70 पर जीत हासिल की और वह 231 तालुका पंचायतों में अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस से बहुत आगे थी. भाजपा ने कुल 8,474 सीटों में से 6,110 सीटें जीती हैं जिसके लिए अब तक परिणाम घोषित किए गए हैं.

कांग्रेस केवल 1,768 सीटें जीत पाई और उसने केवल तीन नगरपालिकाओं में जीत हासिल कर सकी लेकिन किसी भी जिला पंचायत में खाता खोलने में असफल रही. कांग्रेस पार्टी केवल कुछ तालुका पंचायत निकायों में जीत हासिल कर सकी.

जनता पर लगाया ये आरोप

चावड़ा ने कहा, ‘चुनाव परिणाम हमारी अपेक्षाओं के बिल्कुल विपरीत हैं. हमें अपने चुनाव प्रचार के दौरान लोगों से अच्छी प्रतिक्रियाएं मिली थीं, लेकिन परिणाम इसे प्रतिबिंबित नहीं करते. लोगों ने ईवीएम पर संदेह जताया है और इन सभी चीजों की जांच होनी चाहिए.’ गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोशी ने इसकी पुष्टि की कि धानाणी ने भी दिल्ली में पार्टी नेतृत्व को अपना इस्तीफा भेज दिया है.

ये भी पढ़ें- आनंद शर्मा पर अधीर रंजन का पलटवार, बोले- ‘फ्यूचर बॉस’ को खुश करने के लिए दिया बयान  

दोशी ने कहा, ‘पार्टी नेतृत्व को दोनों इस्तीफे प्राप्त हो गए हैं. अब इन नेताओं के स्थान पर किसकी नियुक्ति करनी है इसका फैसला करना पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर निर्भर है.’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व ने चावड़ा और धानाणी को तब तक अपने पद पर बने रहने के लिए कहा है जब तक उनकी जगह लेने वाले की घोषणा नहीं हो जाती.

गुजरात में पिछले महीने हुए निकाय चुनावों के पहले चरण में, भाजपा ने सभी छह नगर निगमों में जीत हासिल की थी.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *