PM Modi के नेतृत्व की कायल हुई दुनिया, अब ऊर्जा और पर्यावरण संरक्षण के लिए मिलेगा International Award


वॉशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की पूरी दुनिया मुरीद है. पीएम मोदी के नेतृत्व में जिस तरह से भारत आगे बढ़ रहा है, उसने सभी को प्रभावित किया है. यही वजह है कि प्रधानमंत्री मोदी को एक और अंतरराष्ट्रीय सम्मान मिलने जा रहा है. अगले हफ्ते एक वार्षिक अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी को सेरावीक वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कार (CERAWeek global energy and environment leadership award) से नवाजा नवाजा जाएगा. 

‘मन की बात’ कहेंगे PM  

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ऊर्जा और पर्यावरण में स्थिरता के प्रति प्रतिबद्धता दर्शाने के लिए सम्मान मिलेगा. अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा सम्मेलन के आयोजक आईएचएस मार्किट (IHS Markit) ने बताया कि सम्मेलन एक से पांच मार्च के बीच इस बार वर्चुअली आयोजित किया जाएगा. यह इसका 39वां संस्करण होगा. इस दौरान, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य भाषण भी देंगे.

ये भी पढ़ें -Corona से जंग में India की भूमिका से WHO खुश, Ghebreyesus ने PM Modi की तारीफ में पढ़े कसीदे

ये भी होंगे शामिल

सम्मेलन में प्रमुख वक्ताओं में जलवायु परिवर्तन पर विशेष अमेरिकी राजदूत जॉन केरी (John Kerry), बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष और ब्रेकथ्रू एनर्जी के संस्थापक बिल गेट्स (Bill Gates) और सऊदी अरामको के सीईओ अमीन नासर (Amin Nasser) शामिल हैं. आईएचएस मार्किट के वाइस चेयरमैन और कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डेनियल येरगिन (Daniel Yergin) ने कहा कि हम भारत के प्रधानमंत्री मोदी को सुनने को उत्सुक हैं.

LIVE TV

PM Modi पर हैं निगाहें

डेनियल येरगिन ने आगे कहा कि हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की भूमिका को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के दृष्टिकोण को देख रहे हैं. देश और दुनिया की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए सतत विकास में भारत के नेतृत्व के विस्तार की अपनी प्रतिबद्धता के लिए प्रधानमंत्री मोदी को सेरावीक ग्लोबल एनर्जी एंड एनवायरनमेंट लीडरशिप अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा और हम इसे लेकर बेहद खुश हैं.

India की तारीफ

येरगिन ने भारत की तारीफ करते हुए कहा कि भारत आर्थिक विकास, गरीबी कम करने और एक नए ऊर्जा भविष्य की दिशा में आगे बढ़ने में वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण का केंद्र बनकर उभरा है. गौरतलब है कि इस वार्षिक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में ऊर्जा उद्योग से जुड़े विशेषज्ञ, सरकारी अधिकारी और नीति निर्माता सहित अन्य लोग शामिल होते हैं.

VIDEO



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *