हमारा रास्ता सेक्युलरिज्म का, बड़ी पार्टियों की बजाय छोटे दलों से गठबंधन-अखिलश यादव


वाराणसी: संत रविदास जयंती पर वाराणसी पहुंचे. उन्होंने संत रविदास के सामने मत्था टेका और आशीर्वाद लिया. इसके बाद उन्होंने प्रेसवार्ता की. इसमें उन्होंने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश यादव ने कहा कि हमारी पहचान यूनिटी और डाइवर्सिटी वाली है. वर्षों से हमारे धर्मों और जातियों के बीच संबंध बना है. ये हमारे देश और समाज की खूबसूरती है कि हम अनेक परंपराओं को मानने वाले एक साथ रहते हैं. लेकिन बीजेपी धर्म के नाम पर नफरत फैलाने का काम कर रही है. हमारा रास्ता सेक्युलर है. सेक्युलरिज्म के रास्ते पर चलना कठिन है. कम्युनल होना आसान है, बीजेपी उसी रास्ते पर चल रही है. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि किसी बड़ी पार्टी के बजाय छोटे-छोटे दलों से गठबंधन करेंगे.

प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि डॉ. भीमराव अंबेडकर का सिद्धांत लोकतंत्र को बचाकर आगे अच्छा उत्तर प्रदेश बनाने के लिए सपा काम कर रही है. पांच ट्रिलियन डॉलर की बात करने वाली बीजेपी ने इस बजट में उसका जिक्र तक नहीं किया. नोटबन्दी के बाद अर्थव्यवस्था चौपट हुई. बीजेपी अर्थ व्यवस्था को चौपट करने का काम किया है.

वाराणसी में प्रियंका गांधी का भव्य स्वागत, संत रविदास के आगे मत्था टेका, लंगर छका

किसानों के लिए डेथ वॉरंट साबित होंगे कृषि कानून
कृषि कानून को लेकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि तीनों अगर तीनों कृषि कानून लागू हुए तो ये किसानों के लिए डेथ वारंट साबित होंगे. यह किसानों पर जबरन थोपे जा रहे हैं. जब मंडियां नहीं होंगी तब बीजेपी के लोग बताएं कि एमएसपी कहां होगी. अखिलेश यादव ने सवाल किया कि बीजेपी मिस्ड कॉल अभियान चलाकर पता कराए कि कितने लोग इसके सपोर्ट में है. 

तेल-गैस के बढ़े दाम कहां जा रहे?
पेट्रोल-डीजल और गैस की बढ़ती कीमती पर अखिलेश यादव ने कहा कि आज डीजल-पेट्रोल की कीमत 100 के करीब पहुंच गई है. सिलेंडर की कीमत 1000 हो गयी. जनता से वसूला गया पैसा किस जगह इकट्ठा हो रहा है, यह बीजेपी को बताना चाहिए.

UP Board के छात्रों को योगी और मोदी सरकार देंगी 2 किस्तों में स्कॉलरशिप, जानें पूरी डिटेल

नदियां साफ नहीं हुई, अंत गोमती मॉडल ही अपनाएगी सरकार
गंगा में लगातार नाले जा रहे हैं. गंगा में जो नदियां जुड़ रही हैं उनकी कोई सफाई नहीं हुई. जो मां गंगा को धोखा दे रहे हों वो अर्थव्यवस्था के नाम पर धोखा दे रहे हैं. मीडिया पर उन्होंने कहा कि अगर कोई सच दिखाता ता है ठोक दिया जाता है. नदियों को साफ करने आखिर रास्ता गोमती मॉडल ही होगा. चंदा वाले सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि सपा दक्षिणा देती है, देगी और वो गुप्त होती है. हम चंदा नहीं कहते. हमारे सवाल उठाने के बाद बीजेपी ने चंदा शब्द का इस्तेमाल करना बंद कर दिया. 

छोटे दलों से गठबंधन
उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी से वह सहमत हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा चुनाव में हर पोलिंग पार्टी का पोलिंग एजेंट होना चाहिए. अगर ये नहीं हुआ तो चुनाव फेयर नहीं होगा. ममता बनर्जी का समर्थन करता हूं और अपील करता हूं कि उन्हें जिताएं. बीजेपी का जादू 22 तक खत्म हो जाएगा, चुनाव बाद बंगाल में भी खत्म होगा. आगे चलकर सपा बड़े दलों से गठबंधन नहीं करेगी बल्कि छोटे-छोटे दलों को साथ लेकर चुनाव लड़ेगी. हमारी लाल टोपी से बीजेपी डरी हुई है.

पत्नी पंखुड़ी पाठक पर विवादित टिप्पणी से आहत पूर्व सपा प्रवक्ता अनिल यादव ने छोड़ी समाजवादी पार्टी

बीजेपी-कांग्रेस के रास्ते पर न चलें सपाई
वहीं पंखुड़ी पाठक के पति और पूर्व सपा प्रवक्ता अनिल यादव के पार्टी छोड़ने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कहूंगा कि वह कांग्रेस और भाजपा के रास्ते पर ना चलें.

WATCH LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *