Maharashtra: Corona के मामलों ने बढ़ाई सरकार की चिंता, Lockdown नहीं पर लग सकती हैं ये पाबंदियां


मुंबई: महाराष्ट्र (Maha) में कोरोना (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने नई बंदिशें लगाने का इशारा दिया है. महाराष्ट्र के राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार का कहना है कि मुंबई (Mumbai) में लोकल ट्रेनों में भीड़ कम करने के लिए उनकी रिशेड्यूलिंग हो सकती है.  साथ ही बाजार, सिनेमा हाल और शादी के हॉल को लेकर भी सख्त पाबंदी लगाई जा सकती है.  हालांकि उन्होंने महाराष्ट्र में दोबारा लॉकडाउन (Lockdown) लगाने की संभावना से इनकार किया है. 

दो हफ्तों के भीतर तेजी से बढ़े कोरोना के मामले

मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों ने महाराष्ट्र सरकार की चिंता बढ़ा दी है. गुरुवार को मुंबई में 1145 नए केस और महाराष्ट्र में 8702 नए केस मिले. पिछले दो हफ्तों के भीतर जिस तरह से कोरोना के केस बढ़े हैं, उसने कोरोना टास्क फोर्स की नींद भी उड़ा दी है. कोरोना से जूझने के लिए बनाई टास्क फोर्स के सदस्य डाक्टर नितिन कर्णिक का कहना है कि इस बार 15 साल से 25 साल के युवा भी कोरोना से संक्रमित होकर अस्‍पताल पहुंच रहे हैं और ये काफी चिंता वाली बात है. 

भीड़भाड़ कम करने के लिए लगाई जाएंगी पाबंदियां 

महाराष्ट्र सरकार भी मान रही है कि हालात गंभीर है क्योंकि,  देश में कोरोना के दो सबसे बड़े हॉटस्‍पॉट बन चुके राज्यों में केरल के साथ महाराष्ट्र का ही नाम है. ऐसे में कोरोना पर काबू पाने के लिए एक बार फिर सख्त बंदिशें लगाने पर राज्य सरकार विचार कर रही है.  महाराष्ट्र के राहत और पुर्नवास मंत्री विजय वडेट्टीवार का कहना है कि दोबारा लॉकडाउन तो नहीं लगेगा लेकिन भीड़भाड़ कम करने के लिए कुछ पाबंदियां लगाई जा सकती हैं. 

ये भी पढ़ें- यौन उत्‍पीड़न मामले में Supreme Court ने पूर्व जज को दी बड़ी नसीहत, जानिए क्‍या कहा

 

नियमों के पालन पर रखी जाएगी कड़ी नजर

-लोकल ट्रेनों में भीड़ को देखते हुए ट्रेनों की रिशेड्यूलिंग हो सकती है

-बसों में  भीड़ कम करने के उपाय किए जाएंगे

-सिनेमा हाल फिर बंद किए जा सकते हैं

-शादी के हॉल पर नियमों के पालन के लिए कड़ी नजर रखी जाएगी

-बाजार और शापिंग सेंटर में भीड़ कम करने और नियमों के पालन पर जोर रहेगा

महाराष्ट्र के अलग अलग हिस्सों से जिस तरह लापरवाही और नियमों के पालन में ढिलाई की तस्वीरें मिल रही है उससे साफ है कि लोग अभी भी गंभीर नहीं है. अगर ये तस्वीर नहीं बदली तो राज्य में कोरोना एक गंभीर संकट बन सकता है.



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *