Petrol Price Today 24 February 2021 Updates: पेट्रोल-डीजल की कीमतें आज नहीं बढ़ीं, लेकिन 1 साल में 19 रुपये महंगा हुआ पेट्रोल


Petrol Price 24 February 2021 Update: कल पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने के बाद आज कीमतें नहीं बदली हैं. हालांकि दिल्ली में पेट्रोल 91 रुपये के बेहद करीब पहुंच चुका है. ऐसे ही दाम बढ़ते रहे तो मुंबई में पेट्रोल का रेट कुछ दिनों में 100 रुपये पहुंच जाएगा, अभी यहां पेट्रोल 97 रुपये प्रति लीटर को पार कर चुका है. हालांकि कोलकाता में पेट्रोल और डीजल के रेट कल घटे हैं. इसके पहले 9 फरवरी से लगातार 12 दिन तक पेट्रोल डीजल महंगा हो रहा था. 
 
दिल्ली में डीजल ने पिछले हफ्ते ही 80 रुपये प्रति लीटर का स्तर पार कर लिया था, अब ये 81 रुपये को भी पार कर चुका है. दिल्ली में सबसे महंगा डीजल पिछले साल जुलाई के आखिरी हफ्ते में बिका था, तब भाव 81.94 रुपये प्रति लीटर थे और पेट्रोल का रेट 80.43 रुपये प्रति लीटर था. यानी उस वक्त पेट्रोल से महंगा डीजल बिका था.

ये भी पढ़ें- SIP में निवेश के जरिए पाइए बेहतर रिटर्न, महज 500 रुपये से कर सकते हैं शुरुआत 

आज नहीं बदले पेट्रोल-डीजल के रेट

दिल्ली में कल पेट्रोल का रेट 35 पैसे महंगा होकर 90.93 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया था, आज इसमें कोई बदलाव नहीं है. दिल्ली में पेट्रोल के भाव का ये एक नया रिकॉर्ड है. मुंबई में भी पेट्रोल 97.34 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया है, कोलकाता में पेट्रोल कल 66 पैसे सस्ता हुआ है और ये 91.78 रुपये से घटकर 91.12 रुपये प्रति लीटर हो गया है. चेन्नई में आज भी पेट्रोल का भाव 92.90 रुपये प्रति लीटर है. राजस्थान के श्रीगंगानगर में पेट्रोल का रेट देश में सबसे अधिक 101.59 रुपये प्रति लीटर पर महंगा मिल रहा है, जबकि डीजल 93.61 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. 

4 मेट्रो शहरों में Petrol की कीमतें 

शहर            कल का रेट       आज का रेट          
दिल्ली            90.93               90.93                                         
मुंबई             97.34               97.34   
कोलकाता      91.12                91.12 
चेन्नई            92.90                92.90

2021 में पेट्रोल-डीजल में लगी आग

फरवरी में अब तक पेट्रोल-डीजल के रेट में 15 बार बढ़ोतरी हुई है. इससे पहले जनवरी में रेट 10 बार बढ़े थे. इस दौरान पेट्रोल की कीमत में 2.59 रुपए और डीजल में 2.61 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी. साल 2021 में अब तक तेल की कीमतें 26 दिन बढ़ाईं गई हैं. इस दौरान पेट्रोल 7.22 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. 1 जनवरी को पेट्रोल का भाव 83.71 रुपये था, आज 90.93 रुपये प्रति लीटर है. इसी तरह दिल्ली में 1 जनवरी से लेकर आज तक डीजल 7.45 रुपये प्रति लीटर महंगा हुआ है. 1 जनवरी को दिल्ली में डीजल का दाम 73.87 रुपये प्रति लीटर था, आज 81.32 रुपये है. 

1 साल में पेट्रोल करीब 19 रुपये महंगा हुआ

अगर आज की कीमतों की तुलना ठीक साल भर पहले की कीमतों से करें तो 23 फरवरी 2020 को दिल्ली में पेट्रोल का रेट 72.01 रुपये प्रति लीटर था, यानी साल भर में पेट्रोल 18.92 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. डीजल भी 23 फरवरी 2020 को 64.70 रुपये प्रति लीटर था, यानी डीजल भी साल भर में 16.62 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है. 

पेट्रोल के बाद डीजल की कीमतें भी महंगाई के नए आसमान पर पहुंच चुकी हैं. मुंबई में डीजल 88.44 रुपये प्रति लीटर है, जो कि अबतक सबसे महंगा रेट है. दिल्ली में डीजल 81.32 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में डीजल कल 36 पैसे सस्ता हुआ है यहां रेट 84.20 रुपये प्रति लीटर है, चेन्नई में डीजल का रेट 86.31 रुपये प्रति लीटर है. 

4 मेट्रो शहरों में Diesel के दाम 

शहर            कल का रेट     आज का रेट   
दिल्ली            81.32                81.32
मुंबई              88.44               88.44        
कोलकाता       84.20               84.20
चेन्नई              86.31               86.31

क्यों बढ़ रहे हैं पेट्रोल डीजल के दाम 

वजह नंबर 1- पेट्रोल डीजल की कीमतें बेलगाम क्यों हैं, इसके पीछे सरकार का तर्क है कि अक्टूबर से लेकर अबतक कच्चे तेल का भाव 50 परसेंट बढ़कर 65 डॉलर के पार चला गया है. इस साल अब तक कच्चा तेल 22 परसेंट तक महंगा हो गया है. क्योंकि दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों में अच्छी तरक्की दिख रही है. हालांकि ये पूरी वजह नहीं है, क्योंकि पिछले साल जनवरी में कच्चे तेल की कीमतें आज से काफी कम थीं, बावजूद इसके लोगों को पेट्रोल डीजल महंगा मिल रहा था. 

वजह नंबर 2- पेट्रोल डीजल महंगा होने के पीछे सबसे बड़ा कारण है केंद्र और राज्य सरकारों का टैक्स है. 2020 की शुरुआत में पेट्रोल पर सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी 19.98 रुपये थी, जो अब बढ़ाकर 32.98 रुपये कर दी गई है. इसी तरह डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 15.83 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 31.83 रुपये प्रति लीटर कर दी गई है. 

वजह नंबर 3- केंद्र के अलावा राज्य सरकारों ने भी पेट्रोल-डीजल पर VAT बढ़ाया है. दिल्ली सरकार ने ही पेट्रोल पर VAT 27 परसेंट से बढ़ाकर 30 परसेंट कर दिया है. जबकि डीजल पर VAT मई में 16.75 परसेंट से बढ़ाकर 30 परसेंट कर दिया था, लेकिन जुलाई में फिर इसे घटाकर 16.75 परसेंट कर दिया था. पेट्रोल का बेस प्राइस 31.82 रुपये प्रति लीटर है, ऐसे में केंद्र और राज्यों का टैक्स मिलाकर देखा जाए तो वो बेस प्राइस से 180 परसेंट के करीब टैक्स लेती हैं. इसी तरह सरकारें डीजल के बेस प्राइस से 141 परसेंट टैक्स वसूल रही हैं. 

2008 में कच्चा तेल 147 डॉलर पर था, पेट्रोल 45 रुपये पर 

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम 65 डॉलर प्रति बैरल हैं, इसलिए पेट्रोल 100 रुपये के पार बिक रहा है, लेकिन ये तर्क तब फेल हो जाता है जब इसकी तुलना साल 2008 के कच्चे तेल के रेट से करते हैं. कच्चा तेल 2008 में 147 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया था, तब पेट्रोल का रेट 45 रुपये प्रति लीटर था. 

खुद देखिए अपने शहर में पेट्रोल डीजल के दाम 

पेट्रोल-डीजल की कीमत आप SMS के जरिए भी जान सकते हैं. इंडियन ऑयल IOC आपको सुविधा देता है कि आप अपने मोबाइल में RSP और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजें. आपके मोबाइल पर तुरंत आपके शहर में पेट्रोल और डीजल का रेट आ जाएगा. हर शहर का कोड अलग-अलग है, जो आपको IOC आपको अपनी वेबसाइट पर देता है

रोजाना सुबह 6 बजे बदलती हैं कीमतें 

रोजाना सुबह छह बजे पेट्रोल और डीजल की नई कीमतें लागू हो जाती हैं. पेट्रोल और डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन और बाकी कई चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम लगभग दोगुना हो जाता है.

ये भी पढ़ें- Bank Holidays in March 2021: 11 दिन बंद रहेंगे Bank, पहले ही चेक कर लें हॉलीडे लिस्ट

LIVE TV



BellyDancingCourse Banner

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *